थेपला अनेक तरह से बनाये जाते हैं।  थेपला एक गुजरती डिश है। अनेक व्यंजनों में लौकी, आटे और मसाले मिलाकर बने थेपला खाने में पौष्टिक और स्वाद में लाजवाब होते हैं। जो बच्चों से लेकर बड़ो तक सबको पसंद आयेगे। इस की एक विशेषता हैं की, सफ़र पर लें जाने के लिए लौकी का थेपला बेस्ट ऑप्शन हैं।

आवश्यक सामग्री / Ingredients for Thepla

300 gm लौकी ( कद्दूकर कर लें )
2 कप गेहूं का आटा
2 हरी मिर्च बारीक़ काट हुआ
1 / 2 चम्मच जीरा
1 /4 कप दही
1 / 2  इंच अदरक
6 से 7 लहसुन
1 चम्मच धनिया पावडर
1 / 4 चम्मच हल्दी पावडर
1 चम्मच गरम मसाला
1 चम्मच लाल मिर्च पावडर
नमक स्वादानुसार
पानी
तेल या घी

विधि ( How to make Thepla )

लौकी की थेपला बनाने के लिए लौकी को छीलकर अच्छे से धोकर इसे कद्दूकस कर लीजिए। लौकी को चारों तरफ से कद्दूकस कर लीजिए, इसके बीच के नरम भाग और बीज को हटा दीजिए। बीच का व्हाइट पार्ट ( अंदर का सॉफ्ट हिस्सा ) सब्जी बनाने में या सुप बनाने के लिए इस्तेमाल करें। कद्दूकस किए लौकी में २ कप गेहूं का आटा, २ बारीक़ कटी हरी मिर्च, जीरा,धनिया पावडर, हल्दी पावडर, गरम मसाला, लाल मिर्च पावडर, अदरक / लहसुन की पेस्ट, दही और नमक डाल कर सभी को हाथों से मिक्स करें और आटा गुथिये। लौकी व्दारा छोड़े गये पानी से यह आटा बहुत आसानी से गुथ जाता हैं, लेकिन अगर आपका आटा सूखा हैं तो आप जरा सा पानी मिला सकते हैं, या फिर अगर आपकी लौकी ने अधिक पानी छोड़ा हैं तो आप इसमे थोडा सा सूखा आटा भी मिला सकते हैं।हाथोंसे मसलते हुए सॉफ्ट आटा लगायेंगे, जैसा आटा चपाती या रोटी को लगते हैं वैसा ही आटा थेपला के लिए लगाकर, १५ से २० मिनिट तक ढककर रख दीजिए।  २० मिनिट बाद आटा सेट होकर तैयार होने के बाद, हाथ पर तेल १ चम्मच तेल लेकर आटे को मसल लीजिए। तवा गैस पर रखकर गरम कीजिए। आटे के छोटे या बढ़े मन चाहे आकर की लोई बना लीजिए।थेपला बनाने के लिए एक लोई लेकर उसे सूखे आटे में लपेटकर थेपला को ६ – ७ इंच व्यास में पतला बेल कर तैयार कर लीजिएतवा गरम होते ही इस पर थोड़ा सा तेल या घी डालकर चिकना कर लीजिए और इस पर थेपला डाल दीजिए और दोनों तरफ चित्ती आने तक पलटकर सेक लीजिए। थेपले के दोनों तरफ तेल या घी लगाकर चारों ओर फैला लीजिए और कलछी से दबा – दबाकर दोनों ओर ब्राउन चित्ती आने तक थेपला सेक लीजिए।सीके हुए थेपले को तवे से उतारकर प्लेट पर रख दें। सारे थेपले इसी तरह तैयार कर लीजिए। इतने आटे में १३ – १४ थेपले बनकर के तैयार हो जाते हैं।( आटे के लोई के छोटे – बढ़े आकर के कारण, थेपले काम या ज्यादा हो सकते हैं )थेपले को आप चटनी, आचर या दही के साथ परोसिये और खाइये। थेपले आप ४ – ५ दिन तक रख सकते हैं। आप इन्हे ट्रैवल पर भी खाने के लिए ले जा सकते हैं।

सुझाव

1 : दही खाना आप पसंद नहीं करते हो, तो थेपले में आप दही की जगह पर आमचूर पावडर इस्तेमाल करे।
2 : थेपले में मसालों की मात्रा आप अपने स्वाद के अनुसार घटा या बढ़ा सकते हैं।
3 : जितनी देर में एक थेपला तवे पर पड़ा हैं, आप दूसरा थेपला बेलकर तैयार कर लें। इससे तवा खाली नहीं रहता हैं और समय की भी बचत
होती हैं।
4 : बच्चों के टिफिन के लिए आप थेपला बना रहे हो तो इसमें आप हरी मिर्च स्किप करें।